होम / शिक्षा / बाल जगत / राष्ट्रीय छात्रवृत्तिक आ पुरस्कार
शेयर
Views
  • State: Open for Edit

राष्ट्रीय छात्रवृत्तिक आ पुरस्कार

इ खंड शिक्षा मे बाल प्रतिभा कें प्रोत्साहित करय कें लेल दे जै वाला राष्ट्रीय छात्रवृत्तिक आ पुरस्कार कें जानकारी दइ छै.

राष्ट्रीय शैक्षिणक अनुसंधान आ प्रशिक्षण परिषद (एनसीइआरटी) मात्रत्मक आ गुणात्मक एवं शैक्षिणक विकास कें प्रोत्साहित करय छै आ असमानता दूर करय तथा सबटा छात्रक कें समान शैक्षिणक अवसर प्रदान करय कें प्रयास करय कें छै. एनसीइआरटी छात्रक मे शैक्षिणक प्रतिभा, राष्ट्रीय प्रतिभा खोज योजना कें माध्यम सं उभरय छै. इ कलात्मक आ खोजपूर्ण प्रतिभा कें लेल चाचा नेहरू छात्रवृत्तिक कें माध्यम सं कलात्मक विशिष्टता कें सें हों प्रशंसा करय छै.

राष्ट्रीय छात्रवृत्तिक

कक्षा आठ कें लेल राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा

छात्रवृत्तिक : संचाललित परीक्षा कें आधार पर आठवीं कक्षा कें परीक्षा मे सम्मिलित हुअ वाला छात्रक कें प्रत्येक समूह मे एक हजार छात्रवृत्तिक दइ जायत छै.

योग्यता : मान्यता प्राप्त स्कूलक कें आठवीं कक्षा मे पढयवाला छात्र आइ राज्यक या संग शसित प्रदेशक, जत स्कूल संचालित छै ,दूवारा संचालित जांच परीक्षा मे शामिल हुअ कें योग्य अछि. अस मे स्थानीयता कें प्रतिबंध नहि होय छै.

परीक्षा योजना : आठवीं कक्षा कें लेल लिखित परीक्षा कें तरीका निम्नलिखित हेतय :

  • मानिसक योग्यता जांच (मैट) आ
  • विद्वता योग्यता जांच (सैट) , अइ मे सामाजिक विज्ञान, विज्ञान आ गणति विषय सं प्रश्न पूछय जायत छै.

दोसर चरण कें राष्ट्रीय स्तर केंपरीक्षा मे

  • मानिसक योग्यता जांच (मैट)
  • विद्वता योग्यता जांच (सैट) , अस मे सामाजिक विज्ञान, विज्ञान आ गणति सं प्रश्न पूछय जायत छै.
  • साक्षात्कार- राष्ट्रीय स्तर कें लिखित परीक्षा मे सफल हुअ वाला छात्रक सें हों साक्षात्कार मे आमंत्रित कैल जायत छै.

राष्ट्रीय प्रतिभा खोज

योग्यता- केंद्रीय विद्यालय , नवोदय विद्यालय , सैनिक स्कूल समेत कोनों प्रकार कें मान्यता प्राप्त स्कूल की दसवीं कक्षा मे पढयवाला सबटा छात्र ओइ राज्य सं , जत स्कूल अवस्थित छै, राज्य स्तरीय परीक्षा मे शामिल हुअ कें योग्य छै. हालांकि अइ मे स्थानीयता संबंधी कोनों प्रतिबंध लागू नहि होय छै.

आवेदन प्रक्रिया- देश भरय मे दसवीं कछा मे पढय वाला छात्र उपरोक्त परीक्षा कें बारे मे अपन राज्य या संघ शासित प्रदेशकें सरकार दूवाराजारी सूचना कें समाचार पत्रक या स्कूल मे देखयत रहय आ विज्ञापन या सूचना मे वर्णित आवश्यकताक कें अनुसार आगू बढ़य.

परीक्षा- एनसीइआरटी दूवारा संचालित कैल जै वाला दोसर स्तर कें जांच मे आवश्यक संख्या मे उमीदवारक कें नामांकित करय कें लेल राज्य स्तरीय परीक्षा कें दूटा भाग होय छै.

  • भाग -1 मानसिक योग्यता जांच (मैट) आ
  • भाग 2 . विद्वता योग्यता जांच (सैट)।

नेशनल साइबर ओलिंपियाड

योग्यता - सीबीएसइ , आइसीएसइ आ राज्य बोर्ड सं संबंधित अंग्रेजी माध्यम कें स्कूलक मे तीसरी सं 12 वीं कक्षा मे पढय वाला बच्चक नेशनल साइबर ओलिंपियाड मे शामिल होय सकय छै. नौंवी सं 12 कक्षा कें ओहेन बच्चक कें, जे कला ,वाणिज्य आ विज्ञान मे अपन कैरियर बनावा चाहे छै , इ प्रतियोगिता मे शामिल होय सकय छै. क्यांकि अइ मे छाकि कें कंप्यूटर कुशलता कें जांच कैल जाय छै.

नेशनल साइंस ओलिंपियाड

छात्र कें निबंधन : इ स्पर्धा कक्षा तीन सं कक्षा 12 तइक कें छात्रक कें लेल खुलल छै आ संबंधित स्कूलक कें निर्दिष्ट प्रपत्र मे निबंधन भेज कें होयत.

नेशनल मैथेमेटिकल ओलिंपियाड

राष्ट्रीय स्तर पर गणित ओलिंपियाड 1976 सं राष्ट्रीय उच्चतर गणित परिषद (एनबीएचएम नेशनल बोर्ड फॉर हायर मैथेमैटिक्स कें प्रमुख गतिविदि आ प्रयास छै. इ गतिविधि कें एकटा मुख्य उद्देश्य हार्स स्कूल कें बच्चक मे गणित कें प्रतिभाक कें पहचान करय छै. एनबीएचएम हर साल हुअ वाला अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपियाड मे शामिल हुअ कें लेल भारतीय टीम कें चयन आ प्रशिक्षण कें जिम्मेदारी सें हों लय छै. ओलिंपियाड प्रतिस्पर्धा कें आयोजन कें लेल देशा कें 16 क्षेत्रक मे बांटल गेल छै. अंतर्राष्ट्रीय गणित ओलिंपियाड (आइएमओ) मे भारत के भागीदारी कें लेल ओलिंपियाड कार्यक्रम मे निम्नलिखित चरण होय छै.

पहिल चरण : क्षेत्रीय गणित ओलिंपियाड (आरएमओ) : देश कें विभन्नि क्षेत्रक मे सामान्यतौर पर हर साल वर्ष सितंबर आ दिसंबर कें पहिले रविवार कें बीच आरएमओ कें आयोजन होय छै. आरएमओ मे शामिल हुअ कें लेल 11वीं कक्षा कें सबटा स्कूली बच्चक योग्य अछि. अस मे तीन घंया कें लिखित परीक्षा कें आयोजन कैल जाय छै. जस मे छ: टा सं सात टा सवाल होय छै.

दोसर चरण : भारतीय राष्ट्रीय गणित ओलिंपियाड (आरएनएमओ) : आरएनएमओ हर साल फरवरी कें पहिले रविवार कें विभन्नि क्षेत्रक कें केंद्रक पर होय छै. आइएनएमओ चायर घंटा कें लिखित परीक्षा होयत अछि. आइएनएमओ मे सर्वोच्चय स्थान पर रहयवाला 30-35 छात्रक कें प्रतिभा कें प्रमाण पत्र दे जाय छै.

तेसर चरण : अंर्राष्ट्रीय गणित ओलिंपियाड प्रशिक्षण शिविर (आइएमओटीसी) : यूएनएमओ प्रमाणपत्र धारकक कें हर साल मई-जून मे आयोजित हुअ वाला महीना भर कें प्रशिक्षण शिविर मे आमंत्रित कैल जायत छै. अस कें अलावा पिछला साल कें एहन आइएनएमओ प्रमाणपत्र धारक कें, जेकर पूरा साल क दूरस्थ शिक्षा कें संतोषजनक ढंग स पूरा कैल होय दोसर चक्र कें प्रशिक्षण कें लेल फेर सं आमंत्रित कैल जायत छै. शिविर कें दौरान आयोजित चयन परीक्षा कें अंक कें आधार पर कनिष्ठ आ वरीय समूहक सं सर्वश्रेष्ठक छ: टा छात्रक कें चयन अंतर्राष्ट्रीय गणित ओलिंपियाड मे भारत कें प्रतिनिधित्व कें लेल चुनल जायत छै.

चौथा चररण : अंतर्राष्ट्रीय गरित ओलिंपियाड (आइएमओ) : शिविर कें अंत मे चयनित छ: टा सदस्यीय टीम एकटा नेता आ एकटा उप नेता कें संग आसएमओ मे भारत कें प्रतिनिधित्व करय छै. जे सामान्यतौर पर जुलाई मे विभिन्न देशक मे आयोजित होय छै. आसएमाओ मे साढे चायर-चायर घंटा कें दूटा लिखित परीक्षा होयत छै जइ स दू दिन मे कम स कम एक टा दिन कें अंतराल पर आयोजित कैल जायत छै. आसएमओ कें स्थान तइक जनाइ आ अनाइ मे करीब दू सप्ताह कें समय लगय छै. आइएमओ मे स्वर्ण ,रजत आ कास्यं पदक जीतय वालाक भारतीय टीम कें छात्रक कें अगला साल कें शिविर कें अंत मे आयोजित औपचारिक समारोह मे एनबीएचएम सं क्रमश: पांच हजार, चार हजार आ तीन हजार टाका कें नगद पुरस्कार देल जाय छै. मानव संसाधन विकास मंत्रलय आठ सदस्यीय भारतीय प्रतिनिधि मंडल कें विदेश यात्र कें खर्च दय छै. जना कि एनबीएचएम (डीएइ) देश कें भीतर हुअय वाला सबटा कार्यक्रमक आ अंतर्राष्ट्रीय भागीदारी सं जुड़ल सब टा खर्च वहन करय छै.

गणित ओलिंपियाड कें लेल पाठयक्रम : गणित ओलिंपियाड का पाठयक्रम (क्षेत्रीय ,राष्ट्रीय आ अतर्राष्ट्रीय) प्री- डिग्री कॉलेज गणित छै. कठिनाइ के स्तर आरएमओ सं आइएनएमओ आ फेर आइएमओ तइक बढल जायत छै.

गणित ओलिंपियाड कें लेल किछू अनुशंसित पुस्तकक छै.

- मैथेमैटिक्स ओलिंपियाड प्राइमर, वी कृष्णामूर्ति, सीआर प्रानेसचर, केएन रंगनाथन आ बीजे वेंकटचला द्वारा (इंटरलाइन पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड, बेंगलुरु )

- चैलेंज एंड थ्रिल ऑफ प्री कॉलेज मैथेमैटिक्स, वी कृष्णामूर्ति, सीआर प्रानेसचर, केएन रंगनाथन आ बीजे वेंकटचला द्वारा (न्यू एज इंटरनेशनल पिब्लशर्स, नयी दिल्ली)

गणति ओलिंपियाड परीक्षा योजना की पूरी जानकारी कें लेल एत यहाँ क्लिक

राष्ट्रीय योग्यता छात्रवृत्ति योजना क्रियान्वयन

राष्ट्रीय योग्यता छात्रवृत्ति योजना कें शुरूआत 1961-1962 सत्र सं शुरू कैल गेल छै. इ योजना कें उद्देश्य मेघावी गरीब छाकि कें मैट्रिक कें उपरांत अध्ययन कें लेल छात्रवृत्ति देनाय छै ताकी ओ गरीब कें बावजूद अपन अध्ययन जारी रायख सकय. ग्रामीण क्षेत्रक कें कक्षा छह सं 12 मेघावी बच्चक कें लेल इ छात्रविृत्त योजना 1971-72सं लाग कैल गेल छै. जेकर कि उद्देश्य अध्ययन कें लेल समान अवसर उपलब्ध करनाय छै. 9वीं योजना तइक स योजना केंद्र दूवारा प्रायोजित योजना कें रूप मे लागू कैल गेलय. विभाग लागू करय कें लेल आब इ योजनाक कें मिला क राष्ट्रीय योग्यता छात्रवृत्ति योजना बनने छय. इ संशोधित योजना अर्हता संबंधी पैमानाक एवं छात्रवृत्ति कें दर आदी मे बदलाव के निर्धारित करय छै.

उद्देश्य

इ योजना कें उद्देश्य कीा 9 एवं 10 मे अध्ययनरत ग्रामीण क्षेत्रक कें योग्य छात्रक एवं मैट्रिक सं ल क स्नातकोत्ततर तइक शासकीय विद्यालय , कॉलेजक एवं विश्वविद्यालयक मे अध्यनरत योग्य प्राप्त छात्रक कें वित्तीय सहायता प्रदान करय छै.

विषय क्षेत्रक

कक्षा 9 एवं 10 कें लेल छात्रवृत्तिक ग्रामीण क्षेत्र कें लेल विद्यालयक , शासकीय विद्यालय एवं विकास खंड मे स्थि सूलक मे पढय वालाक बच्चक कें लेल उपलब्ध छै. मैट्रिक कें बाद स स्नान्तककोत्तर स्तर तइक कें पाठयक्रमक कें लेल राज्यवार योग्यता कें आधार पर राज्यक एवं केंद्र शासित प्रदेशक मे स्कूलक, कॉलेजक एवं विश्वविद्यालय मे छात्रवृत्तिक उपलब्ध छै.छात्रवृत्तिक ओय प्रदेशा /केंद्र शासित प्रदेश कें सरकार दूवारा प्रदान कैल जायत छै. जेकर छात्र निवासी छै या जइ स ओय ओ परीक्षा उत्तीर्ण केनय छै जइ कें आधार पर ओकरा छात्रवृत्ति प्रदान कैल गेलय छै. ग्रामीण क्षेत्रक मे विद्यालय कें पहचान राज्य शसन/केंद्र शासित प्रदेश कें प्रशासन दूवारा कैल जतय.

क्षेत्र एवं पात्रता

कक्षा 9 एवं 10 कें छाकि कें लेल छात्रवृत्तिक केवल ग्रामीण क्षेत्र कें शासकीय विद्यालयक मे अध्ययनरत छाकि कें लेल उपलब्ध होयत. जइ छात्रक कें नीचा देल गेल वर्गक मे विज्ञान ,वं वाणिज्य विषयक मे कुल मिला क 60 प्रतिशत तथा मानविकी सकांय मे 55 प्रतिश्त या ओय सं बेसि अंक प्राप्त कैने होय , ओकरा यै शर्त्तक कें अधीन राष्ट्रीय योग्यता छात्रवृत्ति योजना कें लेल पात्र समझल जतय.

10वीं कक्षा/मैट्रिक/हाई स्कूल-10+2 स्तर/स्नातक कें छात्रक कें छात्नवृत्ति प्रदान करय कें लेल

10+2 प्रणाली कें सीनियर सेकेंडरी बोर्ड परीक्षा कें12वीं या स्नातक एवं ओइ कें बाद के पाठ्यक्रमक कें प्रथम वर्ष मे छात्नवृत्ति प्रदान करय कें लेल

कोनों छात्र जइ सं राष्ट्रीय योग्यता छात्रवृत्ति प्राप्त भ रहल होय ओ अध्ययन कें लेल कोनों अन्य छात्रवृत्तिक प्राप्त नहि करय सकतय. ओहन छात्र जे नौकरी करय रहल छै ओ इ छात्रवृत्ति कें प्राप्त करय योग्य नहि हेतय.

इ योजना कें अंतर्गत छात्रवृत्ति प्राप्त करय कें दौरान विद्यार्थी जइ संस्थान मे अध्ययन करय रहल होय ओ शुल्क छूट कें लाभ ल सकतय. साथ ही ओ उम्मीदवार जे छात्रवृत्ति कें लेल आवेदन देवय कें एक साल पहिले अर्हतादयी परीक्षा उत्तीर्ण केने होय आ एकरा प्राप्त करय कें योग्य नहि हेतय.

अभिभावकक कें आय सीमा

इ योजना कें अंतर्गत सब श्रेणिक मे छात्रवृत्ति केवल ओय छात्रक कें देल जेतय जकर अभिभाववक / पालकक कें समस्त स्नेतक सं वार्षिक आय 1 लाख टाका बेसि नहि होय.

स्रोत : http://www.ncert.nic.in/

2.0
टिप्पणीक पठाउ

जेँ चयनित अछि, त उपयोगकर्ता एहि विषय पर टिप्पणी दऽ सकैत छथि ।

Enter the word
Back to top