होम / समाज कल्याण / कौशल विकास / भारत सरकार कें कौश्ल विकास योजनाक व कार्यक्रम / प्रधानमंत्री कौशल विकास योजनाक (पीएमकेवीवाई)
शेयर
Views
  • State: Open for Edit

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजनाक (पीएमकेवीवाई)

अई भाग मे प्रधानमंत्री काढल किवास के बारे मे जानकारी देल जा रह अछि

परिचय

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजनाक (पीएमकेवीवाई) युवाक कें कौशल प्रशिक्षण कें लें एकटा प्रमुख योजना छै. एकर तहत पाठयक्रमक मे सुधार बढैया प्रशिक्षण आ प्रशिक्षत शिक्षकक पर विशेष जोर दे गेलक्ष् या.प्रशिक्षण मे कई टा पहुलों कें साथ व्यवहार कुशलता आ व्यवहार मे परिवर्तन सें हों शामिल छै.

एकर अंतगर्त देश कें 24 लाख युवाक कें विभिन्न उद्ययोगक सं संबंधित स्किल ट्रेनिंग पावाक कें अवसर भेटतई. अई योजना कें अंतगर्त स्किल ट्रेनिग पावा वाला युवाक कें सरकार कें तरफ सं आर्थिक ईनाम से हो भेटतई. ट्रेनिंग खत्म भेला के बाद अई युवाक कें सरकार कें तरफ सं एकटा प्रमाण पत्र सं हो देल जतई. जेकरा रोजगार पावा आ अपन भविष्य सॅँवारा मे सेॅँ हों मदद करतई .

राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी)

नयागठित कौाल विकास आ उद्ययकम मंत्रलय राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी)कें माध्यम सं अई कार्यक्रम कें क्रियान्वित कैेल जा रहे अई. एकरा तहत 24 लाख युवावक कें प्रशिक्षण कें दायरा मे लैल जैतई. कौशल प्रशिक्षण नेशनल स्किल क्वालिफिकेशान फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) आ उद्ययोग दूवारा तय मानदंडक पर आधारित हेतई. कार्यक्रम कें तहत तृतीय पक्ष आंकलन संस्थाक दूवारा मूल्यांकन आ प्रमाण पत्र कें आधार पर प्रशिक्षुअक कें नगद पारितोषिक देल जतई.नगद पारितोषिक औसतन 8000 रुपया प्रति प्रशिक्षु हेतई.

अई योजना कें उद्देश्य निम्नलिखित छै.

  • 24 लाख युवकक कें अई कौशल विकास योजना मे लक्षित , प्रशिक्षत व मौद्रिक समर्थन मे सम्मिलित कर कै छै.
  • अधिकृत संस्था कें माध्यम सं कौश्ल प्रशिक्षण कें दौर सं गुजइर कॅँ प्रमाणित भेल उम्मीदवार कें लें मौद्रिक इनाम. औसत मौद्रिक इनाम प्रत्येक उम्मीदवार 8000 रुपया निर्धारित
  • मूल्यांकन आ प्रमाणीकरण कें प्रक्रिया मे मानकीकरण कें प्रोत्साहित करा कै छै.

अन्य प्रमुख बिंदु

  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना कें तहत मुख्य रूप सं श्रम बाजार मे पहिल बेर प्रवेश करि रहल लोकक पर जोर देल जतई आ विशेषकर कक्षा 10 व 12 कें दौरान स्कूल छोड देव वाला छात्र पर ध्यान केंद्रित कैल जतई.
  • योजना केँ क्रियान्वयन एनएसडीसी कें प्रशिक्षण साङोदारों दूवारा कैल जतई. वर्तमान समय मे लगभग 2,300 केंद्रक कें एनएसडीसी के 187 प्रशिक्षण साङोदार छै.
  • एकरा अलावा केंद्र व राज्य सरकारक सं संबंधित प्रशिक्षण प्रदाता संस्थाक कें सें हों अई योजना कें तहत प्रशिक्षण कें लें जोडल जतई.
  • सब प्रशिक्षण प्रदातक कें अई योजना कें लें योग्य हुंअ कें लें जांच प्रक्रिया सं गुजर कै हेतई. पीएमकेवीवाई कें तहत सेक्टर कौशल परिषद व राज्य सरकारक से हो कौश्ल प्रश्क्षिण कार्यक्रमक निगरानी कर तई.
  • योजना केँ तहत एकटा कौशल परबंधन प्रणाली (एसडीएसएस) सें हों तैयार कैल जतई. जै सब प्रशिक्षण केंद्रक कें विवरणक आ प्रशिक्षण व पाठयक्रम कें गुणवत्ता कें जांच करतई आ ओकरा दर्ज कैल जतई.
  • जतैक तइक संभव हेतई प्रशिक्षण प्रक्रिया मे बायोमैट्रिक सिस्टम व वीडियो रिकॉडिंग सें हों शामिल कैल जतई जे पीएमकेवीआई सं जानकारी लें जतई .जे पीएमकेवीआई कें प्रभावशीलता कें मूल्यांकनक मुख्य आधार हेतई. शिकायतक निपटान कें लें एकटा प्रभावी शिकायत निवारण तंत्र से हो शुरू कैल जतई.
  • एकर अलावा कार्यक्रम कें प्रचार -प्रसार कें लें एकटा ऑनलाइन नागरिक पोर्टल से हो शुरू कैल जतई.
  • वुवावक के कौशल मेलक कें जरिए जुटाएल जतई आ अई कें लें स्थानीय स्तर पर राज्य सरकारक , स्थानीय निकायक , पंचायती राज संस्थाक आ समुदाय आधारित संस्थाक कें सहयोग सें हों लें जतई.

पीएमकेवीवाई कें प्रक्रिया

एकटा प्रशिक्षण केंद्र पांऊ

  • पीएमकेवीवाई दूवारा मान्याता प्राप्त एकटा प्रशिक्षण केंद्र खोजूं , जे अहांक पसंद कें कौशल विकास पाठयक्रम प्रदान करैत हुंआ.
  • अई वेबसाइट कें इस्तेमाल करूं , कॉल करूं 08800-55555 या अपन निर्वाचन क्षेत्र मे आयोजित हुंअ वाला कौशल शिविर मे भाग लिय.
  • लोकक अनाधिकृत गैर-मान्यता प्राप्त प्रशिक्षण केंद्रक सं सावधान रह कें सें हों चेतावनी दई छी. यदि अई योजना कें कोनों प्रकार सॅँ उल्लंघन होईया त कृप्या शिकायत निपटारा पोर्टल के दूवारा ऑनलाइन श्किायत दर्ज करा सकई छी.

कौशल सीखऊं

  • अपन पसंद कें आ ओई पाठयक्रम मे प्रवेश पाउं जकर लें अहां योग्य छी.
  • उम्मीदवारक कें प्रश्क्षिण आ मूल्यांकन शुल्क भर पडैत .
  • दाखिला कें समय ज्ञापक कें अपन आधार कार्ड आ बैंक खाता विवरण सें हों प्रदान करै कें पडतई.
  • कि अहां कें पास आधार कार्ड ,, बैंक खाता नहि अय या अहां प्रशिक्षण शुल्क भर मे सक्षम नहि छी त ? बेसी जानकारी कें लें एफएक्यू करूं

प्रवेश् पाउं

  • अहां पीएमकेवीवाई दूवारा मानयताप्राप्त प्रशिक्षण केंद्रक पर जे प्रश्क्षिण प्राप्त करवई, ओ राष्ट्रीय आजीविका मानकों आ क्वालिफिकेशान पैक्स कें अनुरूप हैत. जई हरेक रोजगार भूमिका कें लें स्किल काउंसिंल परा तैयार कैल गेलई या.
  • किसी SSC चिह्नपर क्लिक करें और अधिक जानकारी पाएं ।

मूल्यांकन व प्रमाणित करवाउं

  • अपन पाठयक्रम कें पूरा भेला पर अहां दूवारा स्वीकृत मूल्यांकन एजेंसी दूवारा मूल्यांकन कैल जैत.
  • यदि अहां मूलयांकन उत्तीर्ण करइ लई छी आ अहां के पास वैध आधार कार्ड अछि त अहां सरकारी प्रमाणपत्र व स्किल कार्ड प्राप्त हैत.
  • उमीदवार कै बेर अपन मूल्यांकन करवां सकई छैथ , पर हुनका हर बेर मूल्यांकन शुल्क भर पड़इतन.

पुरस्कार प्राप्त करूं

  • अहां प्रमाणित भेला पर एकर एवज मे मौद्रिक पुरस्कार भेटत.
  • इ पुरस्कार सीधा अहां कें अपन बैंक खाता मे जमा करा देल जतई. उम्मीदवार तेखने ई पुरस्कार के हकदार भॅँ सकई छैथ
  • उम्मीदवार तेखने ई पुरस्कार के हकदार भॅँ सकई छैथ
    • ओकरा पास एक वैध बैंक खाता होई आ ओ प्रामाणित कैल गे होई.
    • अई सं पहिले मौद्रिक पुरस्कार नहि भेटल होई.
  • मौद्रिक पुरस्कार सेक्टर कें आधार पर तथा रोजगार कें स्तर के आधार पर भिन्न हेतई.

स्त्रोत : योजना,भारत सरकार और पत्र सूचना कार्यालय

2.94827586207
सितारा क्लिक कऽ मूल्यांकन दी
टिप्पणीक पठाउ

जेँ चयनित अछि, त उपयोगकर्ता एहि विषय पर टिप्पणी दऽ सकैत छथि ।

Enter the word
Back to top