होम / समाज कल्याण / सामाजिक सुरक्षाक / प्रधानमंत्री उज्जवला योजना
शेयर
Views
  • State: Open for Edit

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना

अई भाग मे बीपीएल परिवारक कें एलपीजी उपलब्ध करैवा कें लें उज्जवल योजना कें जानकरी दैल गेलक्ष्या.

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना - खाना पकेवां कें लें गैस, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना योजना- एलपीजी कनेक्शन , प्रधानमंत्री उज्जवला योजना एलपीजी सिलेंडर , प्रधानमंत्री उज्जवला योजना -बीपीएल परिवार , प्रधानमंत्री उज्जवला योजना - सहायता

बीपीएल परिवारक कें मलिाहक लें नि:शुल्क एलपीजी कनेक्शन

सहायता

योजना कें अंतगर्त बीपीएल परिवारक कें पांच करोड़ एलपीजी कनेक्शान प्रदान कर कें लें आठ हजार करोड़ रुना कें प्रवाधान कैल गेलक्ष्एया आ प्रत्येक बीपीएल परिवार कें एलपीजी कनेकन कें लें 1600 रुपया कें वित्तीय सहायता प्रदान कैल गेलक्ष्एया. योग्य बीपीएल परिवारक के पहचान राज्य आ संघ शसित प्रदेश कें साथ विचार -विमर्श के दूवारा कैल जतइए योजना केँ कार्यान्वयन वित्ततीय वर्ष 2016-17-18 आ 2018-19 मे कैल जतईए. देश कें इतिहास मे पहिल बेर पेट्रोलियम आ प्राकृतिक गैस मंत्रलय गरीब तबका परिवार कें करोड़ों महिलाक कें लाभ पहुंचावा वाला योजना कें कार्यान्वयन करतइए.

बच्चक आई केँ समय (वर्तमान ) स्थिति आ स्वास्थय समस्याक

देश मे गरीब के एखन तॅँक खान पकांवा कें लें गैस (एलपीजी) तंक पहुंचा रहल छै. एलपीजी सिलेंडर कें पुंच मुख्य रूप सं शहरी आ आधा शहरी क्षेत्रक छै. आ अई मे सं औसतन परिवार मध्यम आ समृद्ध वगर्र कें छै. जीवाश्म ईंधन पर आधारित खाना बनवा कें लें स्वास्थ्य सं जुड़ल गंभीर समस्याक देखल गेलक्ष्ए. विश्व स्वास्थ्य संगठन कें एक अनुमान कें मुताबिक भारत में पांच लाख लोगक मृत्यु अस्वच्छ जीवाश्म ईंधन के कारण होई छै. अई मे सं बेसितर कें मृत्यु कें कारण गैरसंचारी रोग जैना, ह्दय रोग, आघात , दीर्घकालीन प्रतिरोधी फेफड़ाक संबंधी रोग आ फेफड़ाक कैंसर शमिल छै. धरेलू वायु प्रदूषणक बच्चक कें हुआं वाला तेज सांस सबंबंधी रोगक कें ले पईग संख्या में जिम्मेदार छै. विशेषज्ञक मुताबिक रसोई मे खुलल आइग जरैनाआई प्रति घंटाक चार सौ सिगरेट जलांवा के समान छै.

संश्क्तीकरण आ रोजगार से हो

बीपीएल परिवारक कें मुफ्त एलपीजी कनेकन प्रदान कर अ सं देश मे खाना पकांवा कें गैस कें पहुंच सब लोगक तक संभव हेतइ. अई खाना पकांवा मे लग वाला समय आ कठिन मेहनत कें कम कर मे से हो सहायता मिलतई. योजना सॅँ खाना पकैवा कें गैस वितरण में काज कर वाला गांव के युवाक के रोजगार से हो प्राप्त हेतइ.

स्नेत : पत्र सूचना कार्यालय,भारत सरकार

3.05263157895
टिप्पणीक पठाउ

जेँ चयनित अछि, त उपयोगकर्ता एहि विषय पर टिप्पणी दऽ सकैत छथि ।

Enter the word
Back to top